कटिहार के सभी नाव मालिकों को कराना होगा अपने नाव का रजिस्ट्रेशन ,वरना घटना होने पर होगा मडर का मुकद्दमा

बुधवार को कदवा प्रखंड मुख्यालय में नाव का रजिस्ट्रेशन के लिए शिविर लगने की संभावना है। जिसमें नाव मालिक को ₹50 का खर्च आएगा। नाव मालिक और नाव चालक का दो-दो फोटो लगेगा। अंचल ऑफिस से फोरम प्राप्त कर बड़ा बाबू के पास जमा कराया जा सकता है।

अब सवाल यह उठता है कि रजिस्ट्रेशन की जरूरत क्या है ?

और यह क्या कोई नया तरह का रजिस्ट्रेशन है।?

तो मैं साफ-साफ बताना चाहता हूं कि जिस प्रकार मोटरसाइकिल ट्रैक्टर बस कार का रजिस्ट्रेशन होता है ठीक उसी प्रकार नाव का भी रजिस्ट्रेशन होगा। इससे फायदा यह है कि अगर कभी कोई दुर्घटना हो गया तो आपको हर तरह का सरकारी मदद प्राप्त होगा। कुछ लोगों के मन में है कि रजिस्ट्रेशन होने के बाद सरकार उनके नाव को सीज कर लेगी तो यह एकदम गलत बात है। नाव का निबंधन होने से आपको कई प्रकार का फायदा मिलेगा। आपका नाव सरकार भाड़ा पर भी ले सकती हैं और सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि अगर किसी वजह से कभी कोई दुर्घटना हो गया तो नाव मालिक और नाव चालक पर कोई आरोप नहीं लगेगा वहीं अगर बिना रजिस्ट्रेशन का नाम डूबता है तो नाव चालक पर हत्या का मुकदमा दर्ज हो सकता है। इसलिए नाव का रजिस्ट्रेशन अवश्य करें। यह बहुत जरूरी है।

Congaress के volenter आशीष कुमार ने इस कम के लिए प्रशाशन का आभार भी व्यक्त किया है।
(कॉपी)
मैं अंचल पदाधिकारी कदवा एवं परिवहन पदाधिकारी कटिहार का बहुत-बहुत आभारी हूं कि वह अपना टीम भेजकर कदवा प्रखंड में नाव के रजिस्ट्रेशन का व्यवस्था कर रहे हैं। इसके लिए हम उनका सदा आभारी रहेंगे।

 298 total views,  4 views today