बिहार में हेडमास्टर के लिए 6421 पद की निकली भर्तियां, 28 मार्च तक कर सकेंगे अप्लाई

Views: 23
5 0

बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने शिक्षा विभाग, सरकार के तहत वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में प्रधानाध्यापक की अधिसूचना जारी की है। बिहार भर्ती विज्ञापन संख्या 02/2022 की। कोई भी उम्मीदवार जो बिहार सरकार की इस भर्ती में शामिल होना चाहता है, वह 05 मार्च 2022 से 28 मार्च 2022 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। भर्ती पाठ्यक्रम, योग्यता, आयु सीमा, चयन प्रक्रिया और अन्य जानकारी के लिए आवेदन करने से पहले विज्ञापन पढ़ें।
Age limit:-
न्यूनतम आयु : 31वर्ष
अधिकतम आयु: 47 वर्ष।
वा बीपीएससी बिहार हेड मास्टर भर्ती 2022 के अनुसार आयु में छूट अतिरिक्त।

पोस्ट नाम :_ शिक्षा विभाग,बिहार सरकार के तहत वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में प्रधानाध्यापक।

कुल पोस्ट: 6421

बीपीएससी परीक्षा पात्रता(Eligibility):
न्यूनतम 50% अंकों के साथ मास्टर डिग्री B.Ed / BAEd / B.ScEd और शिक्षक पात्रता परीक्षा परीक्षा उत्तीर्ण।

Salary-35000/महीना

चयन प्रक्रिया : >
लिखित परीक्षा : ( i ) विज्ञापित पदों के विरूद्ध नियुक्ति हेतु सुयोग्य उम्मीदवारों के चयन के लिए आयोग द्वारा लिखित परीक्षा का आयोजन किया जायेगा । यह परीक्षा 150 प्रश्नों की होगी , जो वस्तुनिष्ठ बहुविकल्पीय होंगे , जिसमें सामान्य अध्ययन 100 अंक एवं बी.एड. कोर्स से संबंधित 50 अंकों की परीक्षा ओ.एम.आर. शीट ( OMR ) पर ली जायेगी । प्रत्येक प्रश्न का एक अंक निर्धारित है तथा प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.25 अंक काटे जायेंगे । प्रश्न अनुत्तरित रहने पर शून्य अंक देय होगा । परीक्षा की अवधि 02 ( दो ) घंटे की होगी । > साक्षात्कार : इसमें साक्षात्कार नहीं लिया जायेगा ।

 

( ii ) कार्मिक एवं प्रशासनिक सुधार विभाग , बिहार के संकल्प ज्ञापांक संख्या 2374 , दिनांक 16.07.2007 एवं पत्रांक- 6706 , दिनांक 01.10.2008 के अनुसार लिखित परीक्षा में शामिल सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को 40 % , पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को 36.5 % , अत्यन्त पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों को 34 % एवं अनुसूचित जाति / जनजाति , महिलाओं तथा निःशक्त ( दिव्यांग ) उम्मीदवारों को 32 % न्यूनतम अर्हतांक प्राप्त करना अनिवार्य होगा ।

 

 

( iii ) अंतिम रूप से सफल उम्मीदवारों से संवर्ग आवंटन संबंधी अधिमानता विभाग द्वारा प्राप्त किया जायेगा । ( iv ) अंतिम रूप से सफल उम्मीदवारों के चयन के पश्चात् चयनित अभ्यर्थियों का पदस्थापन Merit – cum choice के आधार पर संबंधित प्रमंडल में विभाग द्वारा किया जायेगा । ( v ) 2 आयोग द्वारा विज्ञापित ऑनलाईन आवेदन पत्र में शिक्षक अभ्यर्थी द्वारा योग्यता एवं अनुभव से संबंधित स्व – घोषणा के आधार पर उनकी उम्मीदवारी का मूल्यांकन किया जायेगा राज्य सरकार के विद्यालय से भिन्न विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों के द्वारा यह प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा की निर्धारित अवधि में उन्हें वेतन बैंक खाते के माध्यम से प्राप्त हुआ और इसका साक्ष्य उनके स्तर पर उपलब्ध है । नोट : 1 – पत्र / विषयों का स्तर एवं विस्तृत पाठ्यक्रम आयोग के वेबसाईट www.bpsc.bih.nic.in पर उपलब्ध है ।

 

 

नोट : 2- आयोग के विज्ञापन के आलोक में प्राप्त आवेदनों में अभ्यर्थियों द्वारा शैक्षणिक योग्यता , अनुभव एवं अन्य योग्यता संबंधी दावों को सत्य मानते हुए परीक्षा आयोजित करने की कार्रवाई की जायेगी । आयोग के द्वारा तैयार औपबंधिक मेधासूची शिक्षा विभाग को भेजने के पश्चात् अभ्यर्थियों द्वारा योग्यता संबंधी आवेदन में किये गये दावे की सत्यता की जाँच विभाग अपने स्तर पर करने के पश्चात् नियुक्ति की कार्रवाई करेगा । आवेदक के दावे और उनके द्वारा प्रस्तुत कागजातों के सत्यापन के पश्चात् मेघासूची को प्रशासी / शिक्षा विभाग संशोधित कर सकेगा । प्रत्येक कोटि में 10 % प्रतिशत प्रतीक्षा सूची आयोग द्वारा तैयार कर शिक्षा विभाग को उपलब्ध करायी जायेगी । नोट : 3 – लिखित परीक्षा के परिणाम के आधार पर आयोग सफल अभ्यर्थियों की औपबंधिक मेघा सूची तैयार करेगा । लिखित परीक्षा ( वस्तुनिष्ठ ) के कुल प्राप्तांक समान होने की स्थिति में अधिक उम्र वाले उम्मीदवार को वरीयता दी जायेगी । 5. आरक्षण : ( 1 ) ऑनलाईन आवेदन पत्र में इंगित कॉलम में आरक्षण का दावा नहीं करने पर आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा । ( ii ) जाति के आधार पर आरक्षण का लाभ उन्हीं उम्मीदवारों को मिलेगा , जिनका स्थायी निवास बिहार राज्य में है अर्थात् जो बिहार के मूलवासी हैं । आवेदन में दिया गया स्थायी पता ही आरक्षण प्रयोजन के लिए स्थायी निवास अनुमान्य होगा ।

 

( II ) ( A ) अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों को निम्नांकित प्रमाण – पत्र जमा करना अनिवार्य होगा : ( a ) जाति प्रमाण – पत्र ( b ) स्थायी निवास / मूल निवास ( डोमिसाइल ) प्रमाण – पत्र ( B ) पिछड़ी जाति एवं अत्यन्त पिछड़ी जाति के उम्मीदवारों को क्रीमीलेयर रहित प्रमाण – पत्र जमा करना अनिवार्य होगा । • पिछड़ा वर्ग एवं अत्यन्त पिछड़ा वर्ग की दशा में अपने स्थायी अधिवास अंचल के राज्य सरकार द्वारा अंचल स्तर पर अधिसूचित राजस्व अधिकारी द्वारा निर्गत क्रीमीलेयर रहित प्रमाण – पत्र एवं अपने स्थायी अधिवास अंचल के राज्य सरकार द्वारा अधिसूचित अंचलाधिकारी द्वारा निर्गत स्थायी निवास प्रमाण – पत्र मान्य होगा ।

 

 

आरक्षण का दावा करने वाली विवाहित महिलाओं का जाति / क्रीमीलेयर रहित प्रमाण पत्र उनके पिता के नाम एवं पता से निर्गत होना चाहिए न कि उनके पति के नाम से उपर्युक्त आरक्षण संबंधी सभी प्रमाण पत्र आयोग कार्यालय / शिक्षा विभाग में सत्यापन के समय मूल रूप से प्रस्तुत नहीं करने पर आरक्षण का लाभ देय नहीं होगा । ( C ) सामान्य प्रशासन विभाग , बिहार की अधिसूचना संख्या 2822 , दिनांक 26.02.2019 के आलोक में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए रिक्ति की उपलब्धता की स्थिति में नियमानुसार 10 % आरक्षण देय होगा । आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के सदस्य द्वारा प्रस्तुत किया जानेवाला आय एवं परिसम्पत्ति प्रमाण पत्र उपर्युक्त अधिस संलग्न अनुसूची -1 ( प्रपत्र- 1 ) में सक्षम प्राधिकार द्वारा निर्गत होना चाहिए । ( iv ) आरक्षित कोटि के उम्मीदवार अपनी जाति के अनुरूप पूर्ण रूप से संतुष्ट होने के पश्चात कोटि का अंकन ऑनलाईन आवेदन के संबंधित कॉलम में करेंगे एवं ऑनलाईन आवेदन उनके पास आरक्षण कोटि के अनुरूप सक्षम प्राधिकार से निर्गत प्रमाण – पत्र उपलब्ध होना अनिवार्य होगा । अन्यथा आरक्षण का दावा मान्य नहीं होगा ।

Website:- www.bpsc.bih.nic.in पर आधिकारिक तौर पर ही अप्लाई करें।