डॉ कफील खान को मथुरा जेल से अभी रिहा कर दिया गया

कल डॉक्टर कफील खान को इलाहाबाद हाई कोर्ट के जरिए जमानत दी गई थी लेकिन उनको रिहा नहीं किया जाता है।
बीते कल ऑर्डर के पास हो जाने के बाद भी हाईकोर्ट के फरमान को अपने पैर के नीचे रखा जेलर और कहा की जब तक अलीगढ़ डीएम नहीं ऑर्डर देता है तब तक हम रिहा नहीं कर सकते हैं।

डॉक्टर साहब साहब को मथुरा जेल में किया गया था कैद और एन ए से लगाकर उन्हें लगातार सताया जा रहा था युवा मांग कर रहे हैं कि आखिर ऐसे लगाकर एक शरीफ इंसान को सताया जा ना अब दोबारा ना हो इसलिए सरकार के कानून ऐसी पास करे के बेगुनाह कार लोग सताए ना जाए

 

हाईकोर्ट ने आदेश सुनाते हुए कहा कि NSA के तहत डॉक्टर कफील को हिरासत में लेना और हिरासत की अवधि को बढ़ाना गैरकानूनी है. कफील खान को तुरंत रिहा किया जाए.

डॉक्टर साहब के साथ जेल में बहुत सारे अमानवीय प्रताड़ना की गई है जैसे डॉक्टर साहब को 5 दिनों तक खाना नहीं बना दिया जाना जो डॉक्टर बच्चों के जान को बचाने के लिए इस तरह लगे तार परेशान होकर बच्चों को की जान को बचा पाते हैं उन्हीं सच्चे और अच्छे डॉक्टरों को इस तरह का सताया जाना बहुत ही निंदनीय है इसे आप देश के युवाओं को सोचना चाहिए कि उनका देश किस तरह चले और उनके जीवन में इस तरह की सोच वाले लोग पैदा हो और कोन उन पर राजनीति से राज करें

युवाओं की एक मांग

एक बिल पास यह भी होना चाहिए कि अगर कोई इंसान जेल में बेगुनाह बंद हो और उसे बाद में बेगुनाह कह कर रिहा कर दिया जाए तो जितना उसका नुकसान हुआ हो उसकी भरपाई राज्य सरकार करे उसको मुआवजा दिलाया जाय जिससे वो अपने नुकसान की भरपाई कर सके

न्यायिक संस्थाओं को किया जा रहा है खराब।

डा.कफील खान और
डा. पायल तड़वी क्या
डा. नहीं थे ?
उनके समय डॉक्टर्स एसोशिएशन नींद में था ?
उनके लिए क्यों नहीं आंदोलन हुआ?
कब आएगा अपके अंदर समाजिक न्याय ?

 270 total views,  1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.