बाइसी में बाढ़ की तबाही

उत्तर बिहार में लगातार बाढ़ के कारण जल दिवस दिवस हो चुका है।
और सरकार इस करोना काल में भी इलेक्शन कराने में व्यस्त है आप देख सकते हैं इस तस्वीर में इस तरह बाढ़ तबाह कर चुकी है घर कोटा चुकी है मजबूत मजबूत पील है जमीन घोष हो चुकी है ईंट और पत्थरों सीमेंट से बनी दीवार आधी गिर चुकी है
करोड़ों रुपए इस मकान को बनाने में लगे होंगे एक पर्स मानता तबका का आदमी जो हमेशा बाढ़ से जूझता है अपनी आराम हुआ था इसके लिए बनाया हुआ घर किस तरह बर्बाद होते ही देख रहा है के दिल में कितनी तकलीफ होगी सरकार इन सारी चीजों पर ध्यान ना दें और सिर्फ जनता को बेवकूफ बनाने में
क्या हुआ सीमांचल में महानंदा बेसिन प्रोजेक्ट का
ज्योति बसु ने कैसे काम करवा लिया तीस्ता नदी बेसिन प्रोजेक्ट पर जबकि दोनों प्रोजेक्ट एक साथ पास किया गया था और आज तक सीमांचल वासी बाढ़ के मसले से जूझ रहे हैं

इस बार जिस तरीके से लगातार 4 महीने तक बाढ़ का सिलसिला जारी है
एक बाढ़ पीड़ित की गुहार!
खासतौर से बायसी इलाके में बाढ़ से हुए नुकसान गरीबों के कमाई बंद हो जाने से किसानों के फसल नुकसान हो जाने से और बहुत सारे परिवारों का घर भी नदी में विलीन हो जाने से और न जाने कितने परेशानियों का सामना लोगों को करना पड़ता है
मैं अपने सांसद एवं विधायक साहब खासतौर से श्री नीतीश कुमार जी से आग्रह करना चाहूंगा——क्या लोग जब नदी में बह जाएंगे तब आप मदद के लिए आएंगे?????

Leave a Reply

Your email address will not be published.