NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक आपराधिक घटनाओं के मामले में बिहार 25 वें स्थान पर

Views: 25
1 0

बिहार पुलिस सप्ताह 2022 के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में शामिल हुए मुख्यमंत्री
पटना,बिहार 27 फरवरी 2022 : -मुख्य्मंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि

“पुलिस की सक्रियता के कारण पहले की तुलना में अपराध में काफी कमी आई है । एक लाख की आबादी पर पुलिस बल की संख्या 115 निर्धारित की गयी है , इसे बढ़ाना है । हम चाहते हैं कि एक लाख की आबादी पर बिहार में पुलिस की संख्या 165 से 170 हो । मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने आज बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस- 5 स्थित मिथिलेश स्टेडियम में बिहार पुलिस सप्ताह 2022 के समापन एवं वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में शामिल हुए ।

 

समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार पुलिस सप्ताह 2022 के अवसर पर आयोजित इस वार्षिक समारोह कार्यक्रम में उपस्थित आप सभी लोगों को मैं बधाई देते हुए अभिनन्दन करता हूँ । बड़ी खुशी की बात है कि इस वर्ष भी बिहार पुलिस सप्ताह मनाया जा रहा है । हमलोगों के कार्यकाल में यह कार्यक्रम नियमित रूप से किया जा रहा है । 22 फरवरी से 27 फरवरी तक इस कार्यक्रम के दौरान जो चर्चाएँ एवं विमर्श होती हैं उससे पुलिस बल को काफी लाभ मिलता है । हम इस कार्यक्रम में हर बार शामिल होते हैं । आज जितने लोग पुरस्कृत हुए हैं , मैं उन सभी को हृदय से बधाई देता हूँ । यहां पर जिस ग्राउंड में यह आयोजन हो रहा है , उसे पहले बी ० एम ० पी ० कहा जाता था लेकिन अब इसका नाम बदलकर बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस कर दिया गया है । यह नाम सुनने में बहुत अच्छा लगता है । बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस द्वारा आयोजित इस प्रकार के कार्यक्रम में मैं पहली बार आज शामिल हुआ हूँ ।

 

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोगों को जब से काम करने का मौका मिला पुलिस बल पर विशेष ध्यान दिया गया । समय – समय पर पुलिस बल की गतिविधियों की समीक्षा कर कानून व्यवस्था की स्थिति बेहतर की गयी । पुलिस की सक्रियता के कारण पहले की तुलना में अपराध में काफी कमी आई है , इसके लिए मैं बिहार पुलिस को विशेष तौर पर बधाई देता हूँ लेकिन शत – प्रतिशत आदमी ठीक नहीं हो सकता है । समाज में कुछ गड़बड़ करनेवाले मानसिकता के लोग भी होते हैं ।

 

 

 

 

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो हर वर्ष देश भर के प्रान्तों की आपराधिक घटनाओं से जुड़ी रिपोर्ट प्रकाशित करता है । वर्ष 2020 में नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की रिपोर्ट के मुताबिक आपराधिक घटनाओं के मामले में बिहार 25 वें स्थान पर है । देश में जितने भी प्रांत हैं उनकी तुलना में बिहार आबादी के दृष्टिकोण से तीसरे नम्बर पर है जबकि क्षेत्रफल में बिहार का स्थान 12 वां है ।