हादर्स में बलात्कारियों के पक्ष में निकली रैली

हादर्स में पर बलात्कारियों के पक्ष में निकली रैली
14 सितंबर के जब से हाथरस में एक दलित युवती के साथ जबरन गैंगरेप किया गया है और इस तरह की बर्बरता से उसकी हत्या की गई है पहले लड़की का जुबान काटा गया फिर गर्दन तोड़ी गई और वीर की हड्डियां फैक्चर किया गया इस मामले को लेकर इंसाफ की गुहार लगाती हुई हाथरस की रेप पीड़िता 14 दिन तक अस्पताल नहीं जा सकी नहीं उसका एफ आई आर दर्ज कराया गया यहां तक कि पुलिस भी आरोपियों के साथ देने में जुटी रही जब मामला तूल पकड़ा और जांच रिपोर्ट की बात आई तो जल्द ही जल्द ठाकुर डीएम ने रेप पीड़िता को चला दिया ताकि किसी किस्म की कोई शुभ हो बाकी ना रहे
भारत में अक्सर के देखा जाता है जब किसी किस्म का कोई मामला मुस्लिम और मुस्लिमों के दरमियान हो तो उस वक्त तमाम के तमाम हिंदूवादी संगठन बजरंग दल r.s.s. श्रीराम सेना और जिगर 4000 गुड और दल और संस्थाएं लड़की या पीड़ित को प्रमोट करके हिंदू बना देती है जब भी यही मामला अपने ही अपना झटके उच्च जाति के साथ हो तो उस वक्त पीड़िता सिर्फ और सिर्फ अपनी ही जाति के दलित क्वेरी कमेरी इन्हीं जाती ही चीज होती है वह कभी हिंदू की नहीं हो पाती आखिर यह दुर्व्यवहार दोगलापन इस ऊंची जाति के लोग अपने हिंदू धर्म में कब तक करते रहेंगे
बलात्कारी जबकि यहां ऊंची जाति के हैं तो हजारों अखबार में आ रहा है कि रेप नहीं हुआ था गैंग रेप नहीं था इस तरह मनु स्ट्रीम मीडिया लगातार मामले को दबाने की कोशिश में लगी रहेगी बात सिर्फ इतनी नहीं है कि मामला गलत है बल्कि हजारों साल से दलित वर्ग को दबा कर के रखने का एक ट्रेडीशन चलता हुआ आ रहा है और इसी से निकलने के लिए दलित समाज कोशिश कर रही है
अब सवर्ण समाज के संगठित रेपिस्ट ओके फेवर में आने के बाद एक रैली निकाली गई और उसमें यह साबित करने की कोशिश की गई के रेप कारी अच्छे थे हम सवर्ण समाज रेल बलात्कारियों के पक्ष में हैं।

आखिरकार हाथरस में रेपिस्टों के पक्ष में रैली निकल ही गई!
यही तो हमारे देश की खूबसूरती है..!

 268 total views,  5 views today